THE GLORIA SCOTT

About Book

“मेरे पास कुछ कागजात हैं,” आग के पास सर्दी की एक रात में बैठे मेरे दोस्त  शरलॉक  होम्स ने कहा, “मैं सोचता हूं कि तुम इन पर नज़र डालो तो अच्छा होगा। यह ग्लोरिया स्कॉट के अजीब   केस के दस्तावेज हैं और  यह वो संदेश है जिसे पढ़कर जस्टिस ऑफ़  पीस ट्रेवर डर के मारे मर गया।”


उसने drawer  से एक पुराना घिसा हुआ सिलेंडर निकाला और उसका टेप हटाकर, उसने मुझे एक स्लेटी रंग  का पन्ना  थमाया। 
जिस पर एक छोटा सा नोट लिखा हुआ था “लंदन में गेम की सप्लाई तेज़ी से बढ़ रही है. हमें लगता है  कि हेड कीपर हडसन को फ्लाई-पेपर के सभी ऑर्डर लेने और तुम्हारी मुर्गियों की जान  बचाने का  आदेश दिया गया है”. इस रहस्यमयी मैसेज को पढ़कर जब मैंने ऊपर देखा तो पाया कि होम्स मेरे चेहरे के भाव को देखकर हंस रहा है। 
“तुम कुछ परेशान लग रहे हो।” उसने कहा। 


“समझ नहीं पा रहा कि इस मैसेज में डरने वाली क्या बात है। बल्कि मुझे तो यह बेतुका लग रहा है।” 
“हाँ लग तो रहा है, पर हकीकत यह है की इसे पढ़ने वाला जो एक तंदुरुस्त, हट्टा-कट्टा आदमी था, इसे पढ़ते ही ऐसे मर गया मानो किसी ने बंदूक के पिछले हिस्से से उसके सिर पर दे मारा हो। 
“तुमने मेरी जिज्ञासा बढ़ा दी है।” मैंने कहा। “पर तुमने अभी-अभी यह क्यों कहा कि बहुत खास वजह है कि मैं इस केस को पढूं ?”
 “क्योंकि यह मेरा पहला केस था जिस पर मैंने काम किया था।”
 
कई बार मैंने अपने दोस्त से उगलवाने की कोशिश की थी कि उसे  अपराध की दुनिया पर रिसर्च करने की प्रेरणा सबसे पहले कैसे मिली थी, पर मैंने उसे पहले कभी भी इस तरह मज़ाक के मूड में नहीं देखा था।  वह अपनी कुर्सी पर बैठ गया और दस्तावेजों को अपने घुटनों पर फैला लिया। फिर उसने अपना पाइप सुलगाया और कुछ देर तक कश लेते हुए पन्ने पलटता रहा।
 
​​“तुमने मुझे कभी भी विक्टर  ट्रेवर  का ज़िक्र करते नहीं सुना? उसने कहा, “मैंने अपने कॉलेज के दो सालों में एक वही दोस्त बनाया था।  वॉटसन , मैं कभी भी मिलनसार नहीं था। मुझे अपने कमरे में सोच में डूबे रहना पसंद था इसलिए मैं अपने साथ पढ़ रहे लोगों से ज्यादा नहीं मिला जुला। बॉक्सिंग और फेंसिंग के अलावा मुझे खेलकूद में बिल्कुल दिलचस्पी नहीं थी और मेरा सब्जेक्ट भी उनसे इतना अलग था कि हमारे बीच संपर्क का कोई कारण नहीं था। एक  ट्रेवर  ही था जिसे मैं जानता था और वह भी इसलिए क्योंकि एक सुबह जब मैं चैपल जा रहा था, उसके बुल टेरियर कुत्ते ने मेरी एड़ी पर  अपने दाँत जड़ दिए। 


“दोस्ती करने का ये बड़ा नीरस तरीका था लेकिन यह असरदार था। मैं दस दिनों तक बिस्तर पर पड़ा रहा लेकिन  ट्रेवर  मेरा हाल-चाल जानने आया करता था। पहले तो एक-दो मिनट ही बातचीत होती थी पर जल्दी ही हमारी बातचीत का समय लंबा होता गया और टर्म खत्म होने से पहले हम अच्छे दोस्त बन चुके थे। वह बड़ा हँसमुख, उत्साही, जोश से भरा हुआ था, मुझसे बिलकुल उलटा, पर हम दोनों में कुछ समानताएं भी थीं और जब मुझे पता चला मेरी तरह उसका भी कोई दोस्त नहीं है, तो हमारी नजदीकियां और बढ़ गयीं। अंत में, उसने मुझे अपने पिता के घर  Donnithorpe में आने का निमंत्रण दिया जो Norfolk में  है, जिसे मैंने स्वीकार किया और एक महीने की छुट्टियां वहाँ बिताई।  


 ​​”सीनियर  ट्रेवर  यानी उसके पिता, एक अमीर और रसूखदार आदमी थे। Donnithorpe एक छोटा सा गावँ है जो कि  Langmere की उत्तर में बसा है। उनका घर एक पुराने फैशन की लंबी चौड़ी सी बिल्डिंग थी। वहां पर बत्तख का शिकार करने और मछली पकड़ने में मज़ा आता था। एक छोटी पर कुछ खास किताबों की लाइब्रेरी भी थी, जो मुझे लगता है की इस घर के पुराने मालिक से ली गयी थी। वहाँ का कुक भी ठीक खाना बनाता था, इसलिए शायद ही कोई होगा जो वहाँ एक महीना ख़ुशी -ख़ुशी ना बिता पाए । 


 “सीनियर  ट्रेवर  एक विधुर आदमी था, और मेरा दोस्त उसका इकलौता बेटा था। 
मैंने सुना कि एक बेटी भी थी, लेकिन उसकी  Birmingham की यात्रा के दौरान डिप्थीरिया से मौत हो गयी। मुझे पिता में बहुत दिलचस्पी हुई। वह ज्यादा सभ्य और मिलनसार नहीं थे, पर शारीरिक और मानसिक रूप से काफी मजबूत थे। उन्हें किताबों का कोई ज्ञान नहीं था लेकिन वह बहुत दुनिया देख चुके थे और जो कुछ सीखा, उसे याद रखा। वह शरीर से गठीले और बलवान थे, उनके बाल सफ़ेद, चेहरा भूरा व सख़्त, और आँखे नीली थीं, जो इतनी पैनी थी की खूंखार लगती थी। फिर भी उस इलाके में उनकी पहचान एक दयावान और दानी शख्स की थी, और अदालत में वह अपने उदार फैसलों के लिए जाने जाते थे। 
 
“मेरे आने के कुछ समय बाद, एक शाम हम डिनर के बाद पोर्ट का ग्लास लिए बैठे थे कि मेरा दोस्त जूनियर ट्रेवर, गौर करने और किसी निष्कर्ष पर पहुंचने की आदत के बारे में बात करने लगा, जिसे मैं अपने अंदर पहले ही ढाल चुका था। हालांकि, अभी तक मुझे यह नहीं पता था कि यह मेरी जिंदगी में क्या भूमिका निभाने वाले हैं। बूढ़ा ट्रेवर यह सोच रहा था की उसका बेटा मेरे एक दो कारनामो को बढ़ा चराकर बता रहा हैं।  
“चलो मिस्टर होम्स”, वह खुशमिज़ाजी से हँसते हुए बोला, “मैं बड़ा बेहतरीन विषय हूँ, तुम मुझे देखकर मेरे बारे में क्या नतीजा  निकालना चाहोगे।”
 ‘मुझे अफ़सोस हैं की बहुत  ज़्यादा कुछ तो नहीं हैं बताने के लिए,’ मैंने जवाब  दिया; पर मैं यहीं कह सकता हूँ की शायद पिछले बारह महीनों में आप पर किसी  हमले की आशंका रही है।’  


“उसकी होठों की हंसी मुरझा गई और उसने मुझे बहुत आश्चर्य से देखा।  
 
“‘हां यह सच है,’ उसने कहा। ‘तुम जानते हो, विक्टर,’ उसने  बेटे की ओर मुड़ते हुए बोला, ‘हमने जब उस पोचिंग गैंग को तोड़ा था, तो उन्होंने हमें जान से मारने की धमकी दी थी, और सर एडवर्ड  हॉली  पर वास्तव में हमला हो भी चुका  हैं, तब से मैं हमेशा चौकन्ना रहता हूँ , हालांकि मुझे यह नहीं मालूम की तुमने यह बात कैसे जानी।' 
“आपकी छड़ी बहुत खूबसूरत हैं,”, मैंने जवाब दिया। इसपर लिखावट से मैंने जान लिया की आपके पास यह बस  साल भर से ही हैं। पर आपने काफी मेहनत की और उसके सर को खोखला कर के उसमे पिघला हुआ शीशा भरा हैं, जिससे यह एक अच्छा खासा हथियार बन गया हैं।  मैंने सोचा की आप यह सावधानी नहीं बरतते अगर किसी खतरे का अंदेशा नहीं होता।’


 ‘और कुछ ?’ उसने मुस्कुराते हुए पूछा।


‘आपने अपनी जवानी में काफी बॉक्सिंग की हैं।’ 


‘फिर सही कहा। तुमको कैसे मालूम हुआ ? क्या मेरी नाक थोड़ी टेढ़ी हो गयी हैं ?’


 मैंने कहा , ‘नहीं , बस आपके कान चपटे हैं, और कहीं-कहीं से चौड़े हो गए हैं , जो एक बॉक्सर की निशानी हैं। 


 ‘और कुछ ?’


‘आपने बहुत ज्यादा खुदाई भी की हैं, आपके हाथों की उँगलियाँ देखकर पता चल रहा है।’


‘मेरी सारी दौलत सोने की ख़ज़ानों से आयी हैं।’  


‘आप न्यूज़ीलैंड में रह चुके हैं।’  
‘फिर सही।’ 
‘आप जापान भी जा  चुके हैं।’


 ‘बिल्कुल सच ।’ 


‘और आप किसी ऐसे व्यक्ति के काफी नज़दीक रह चुके हैं जिसका नाम J. A. हैं और जिसे आपने बाद में बिलकुल भूल जाने की कोशिश की।’
  “मिस्टर ट्रेवर धीरे धीरे खड़ा हुआ और मुझे अजीब तरीके से घूरने लगा और फिर आगे लहराते हुए नीचे  ज़मीन पर बिखरे मूंगफली के छिलकों पर मुंह के बल बेहोश होकर गिर गया।”
“तुम सोच नहीं सकते  वॉटसन , कि मैं और उसका बेटा कितने हक्के बक्के रह गए। हालांकि, उसकी बेहोशी ज्यादा देर नहीं रही क्योंकि जब हमने उसका कॉलर खोला और एक गिलास से पानी लेकर चेहरे पर छिड़का, तो वह एक दो गहरी सांसें लेता हुआ उठकर बैठ गया।” 
‘आह बच्चों,’ जबरदस्ती मुस्कुराते हुए वह बोला, ‘मुझे उम्मीद है कि मैंने तुम लोगों को डराया नहीं होगा, हालांकि मैं बड़ा मज़बूत लगता हूँ, फिर भी मेरा दिल काफी कमज़ोर हैं, मुझे बेहोश करने के लिए छोटी बात ही काफी हैं। मुझे मालूम नहीं कि तुम ये सब कैसे करते हो, पर मुझे लगता है की असली या काल्पनिक सभी जासूस तुम्हारे सामने बच्चे है।’ यही तुम्हारी ज़िंदगी की राह है और यह उस आदमी की भविष्यवाणी हैं जिसने दुनिया देखी है। 
“ और यह  सलाह, जिसमें मेरी काबिलियत को बड़ा चढ़ाकर बताया गया था, वॉटसन मुझे पहली बार लगा की इसे मैं अपना पेशा बना सकता हूँ, जो उस समय मैं एक हॉबी की तरह करता था।पर उस वक्त मैं अपने मेज़बान की अचानक बिगड़ी तबियत के बारे में फ़िक्र कर रहा था और कुछ भी मुझे नहीं सूझ रहा था।”   


 ‘मुझे उम्मीद है कि मैंने ऐसा कुछ नहीं कहा है जिससे आपको तकलीफ हुई ?’ मैंने कहा।   
‘तुमने एक नाज़ुक जगह पर हाथ रख दिया है। क्या मैं पूछ सकता हूँ कि तुम ये सब कैसे जानते हो और तुम्हें कितना पता है?’ वह थोड़े मजाक के तरीके से बोला, पर उसमें डर भी छुपा था। 
 
“‘यह तो एकदम आसान था,’ मैंने कहा ‘ जब आपने अपना हाथ उठाकर मछली को नाव में लाने की कोशिश की, मैंने आपकी कोहनी पर बना टैटू J.A. बना देखा। ये अक्षर अभी भी समझ में आ रहे थे, लेकिन वो धुंधले पड़ने के बावजूद साफ़ दिखाई दे रहे थे और पास की खाल पर बने निशानों से मैं समझ गया कि इन अक्षरों को मिटने की कोशिश की गयी है। फिर यह साफ़ हो गया कि इन अक्षरों से आपका कोई गहरा नाता था पर बाद में आप इनको भूलना चाहते थे। 
 
“क्या नज़र पाई है !” राहत की साँस लेकर  उसने कहा.’ ‘बिलकुल ऐसा ही है जैसा तुमने कहा। लेकिन हम इस बारे में बात नहीं करेंगे। सभी पुरानी यादों में सबसे बुरी याद आपके पुराने प्यार की होती है।  बिलियर्ड रूम में आ जाओ और सिगार पियो।’
 

Chapters

Add a Public Reply