The Adventure of The Greek Interpreter

About Book


 शरलॉक   होम्स से मेरा इतना करीबी और लंबा रिश्ता होने के बावज़ूद, मैंने कभी उसे अपने रिश्तेदारों या पहले की जिंदगी के बारे में बात करते नहीं सुना। उसकी इस चुप्पी की वजह से मुझे कभी- कभी वह बेरहम लगता था, कभी -कभी मुझे लगता था कि वह अपने किस्म का अजीब ही इंसान है, बिना दिल का है ,उसमें भावनाओं जितनी कमी है, दिमाग उतना ही संवेदनशील है। औरतों  में उसकी कोई दिलचस्पी न होना और नए दोस्त बनाने में उसकी हिचकिचाहट तो उसकी संवेदनहीनता दिखलाते ही थे, लेकिन उसके चरित्र की यह ख़ासियत सबसे ज्यादा तब उजागर होती है जब वह अपने लोगों का जिक्र आते ही उसे पूरी तरह दबा देता। मुझे यकीन हो गया था कि वह अनाथ है और उसका कोई भी रिश्तेदार अब इस दुनिया में नहीं है , लेकिन मुझे तब बहुत हैरानी हुई जब वो अपने भाई के बारे में बातें करने लगा। 


गर्मी की एक शाम चाय के बाद का समय था, और हमारी बातचीत, गोल्फ क्लब से लेकर सूरज ग्रहण सम्बन्धी थ्योरी जैसे नीरस टॉपिक पर टिकी थी। आखिर में पुश्तैनी आदतों का सवाल उठ खड़ा हुआ।  बातचीत का मुद्दा यह था कि किसी भी  इंसान का कोई भी हुनर किस हद तक पुश्तैनी होता है और कितना उसकी शुरुआती तालीम पर निर्भर होता है। 


“तुम्हारे मामले में,” मैंने कहा , जितना तुमने मुझे बताया है , उससे साफ़ लगता है कि तुम्हारी किसी चीज़ को बारीकी से देखने की काबिलियत और निष्कर्ष निकालने की कला तुम्हारी सिलसिलेवार तालीम की वजह से ही है। “


 “कुछ हद तक ,” उसने सोचकर जवाब दिया। “मेरे  पूर्वज काफ़ी रुतबे वाले जमींदार थे , और उस तरह की जिंदगी जीते थे जैसे उस वर्ग के लोग जीते हैं। लेकिन , फिर भी मैं जैसा भी हूँ उनका रंग मेरी रगों में दौड़ रहा है और शायद ये मुझे मेरी दादी से मिला है , जो मशहूर पेंटर वर्नेट की बहन थी। खून में अगर कला हो तो वो वह किसी न किसी रूप में बाहर आ ही जाती है। “
“लेकिन तुम कैसे जानते हो की यह तुम्हारे पूर्वजों से मिली है ?”


“ क्योंकि  यह मेरे भाई  माइक्रॉफ्ट   के पास मुझ से भी ज्यादा मात्रा में है। 
यह मेरे लिए वाकई में एक नई जानकारी थी।  अगर इतनी खूबियों वाला आदमी भी इंग्लैंड में है तो, ऐसा कैसा हुआ की न पुलिस न जनता किसी ने उसके बारे में नहीं सुना था ? मैंने यह सवाल उठाया और एक हल्का सा इशारा दिया कि मेरा दोस्त बिलकुल भी घमंडी नहीं है, इसी वजह से वह अपने भाई को अपने से बेहतर बता रहा है। मेरी बात पर होम्स हंस पड़ा।  


मेरे दोस्त वॉटसन ,” उसने कहा , “ मैं उनसे ताल्लुक नहीं रखता जो विनम्रता को खूबी मानते हैं। तर्क करने वाले को जो चीज़ जैसी है वैसी ही देखनी चाहिए , और अपने को कम समझना भी सचाई से उतना ही दूर जाना है जितना अपनी खूबियों को बढ़ा-चढ़ा कर बताना। इसलिए मैंने जो अभी अपने भाई के बारे में बताया वह एक ठोस सच्चाई है। “
 
“क्या वह तुमसे छोटा है ?”
 
“मुझसे सात साल बढ़ा। “
 
“उसके बारे में कोई कैसे नहीं जानता ?
 
“ओह, वह बहुत मशहूर है अपने ही लोगों में। “ 
 
“कहाँ पर?”
 
“जैसे की Diogenes क्लब में। “
 
मैंने इसके बारे में कभी नहीं सुना था , और मेरे चेहरे से भी यह बात साफ़ हो गयी होगी,क्योंकि  शरलॉक   होम्स ने अपनी घड़ी निकाली। 
 
“ Diogenes क्लब लंदन का सबसे अजीब क्लब है , और माइक्रॉफ्ट  सबसे अजीब लोगों में से एक है। वह हमेशा वहां पौने पांच बजे से लेकर आठ बजकर बीस मिनट तक रहता है।  अभी छः बज रहे है, अगर इस खूबसूरत शाम सैर करना चाहो तो तुम्हें दो अजब चीज़ों से मिलवाना चाहूंगा। “
 
पांच मिनट बाद हम सड़क पर थे  ,और रीजेंट सर्कस की ओऱ जा रहे थे। 
 
“तुम सोच रहे होंगे ,” मेरे दोस्त ने कहा ,”  माइक्रॉफ्ट  अपनी काबिलियत को जासूसी के काम में क्यों नहीं लेता। क्योंकि वह नहीं कर सकता। 
 
 “ लेकिन तुमने तो कहा था -”
“ मैंने कहा कि मेरा भाई गौर करने और जासूसी के काम में मुझ से बेहतर है।अगर जासूस का काम सिर्फ कुर्सी पर बैठकर तर्क करने से पूरा हो जाता तो मेरा भाई दुनिया का सबसे बड़ा जासूसी एजेंट होता। उसमें न आगे बढ़ने की चाह है और न फुर्ती है। वह अपने ही निष्कर्षों को सही साबित करने की जहमत भी नहीं उठाता, उसे यह कबूल है कि उसे गलत ठहरा दिया दिया जाए पर वह खुद जो सही साबित करने तकलीफ नहीं उठएगा। कई बार मैं उसके पास समस्या लेकर पंहुचा , और उसने उनके जो हल बताये वो बाद में सही साबित हुए। पर वह उन मुद्दों पर काम नहीं कर सका जिनको पूरा करके ही कोई भी केस जज के सामने रखा जा सकता है। “ 
 
“तो यह उसका पेशा नहीं है ?“
“बिलकुल नहीं। जो मेरे लिए रोटी कमाने का जरिया है वह उसके लिए बस एक शौक मात्र है। वह गणित में बहुत अच्छा है , और किसी सरकारी डिपार्टमेंट के खाते ऑडिट करता है।  माइक्रॉफ्ट  पॉल मॉल में रहता है , और वह पास में ही सुबह Whitehall जाता है और शाम को वापस आ जाता है। साल दर साल वह इसके अलावा वह कुछ नहीं करता, और Diogenes क्लब के अलावा ना कही और दिखाई देता है, जो कि उसके कमरे के बिल्कुल सामने है। “


“मुझे वह नाम याद नहीं आ रहा। “
“हो सकता है। पता है ऐसे कई लोग हैं जो संकोची होने की वजह से या दूसरों से नफरत होने की वजह से लोगों से मिलना -जुलना पसंद नहीं करते। पर उन्हें आरामदेह कुर्सी और नई -नई मैगजीन से परहेज नहीं है। इन लोगों की सुविधा के लिए ही क्लब की शुरुआत हुई,  अब वहाँ  शहर के कम मिलनसार लोग आया-जाया करते हैं और किसी भी मेंबर को इजाजत नहीं है कि वह दूसरे मेंबर पर ध्यान दे। स्ट्रेंजर रूम के अलावा कहीं भी बातचीत मना हैं, अगर कमिटी के सामने तीन बार नियम तोड़ने की बात आती है, तो बात करने वाले की मेम्बरशिप ख़त्म की जा सकती है। मेरे भाई उन पहले सदस्यों में है जिन्होंने इस क्लब को बनाया, और मुझे खुद भी वहां का माहौल बढ़ा सुकून देना वाला लगता है। “
 
सेंट जेम्स की ओर से  चलते -चलते और बातचीत करते- करते हम पॉल मॉल पहुंच गए। कार्लटन से कुछ दूरी पर  शरलॉक  होम्स  रुका और मुझे चुप रहने की हिदायत देकर हॉल की तरफ बढ़ा। शीशे के पैनल से मैंने एक बहुत बढ़ा आलीशान कमरा देखा, जिसमे बहुत सारे आदमी अलग- अलग बैठे अख़बार पढ़ रहे थे। होम्स मुझे एक छोटे से चैम्बर में ले गया जो पॉल मॉल की और खुलता था , फिर एक मिनट के लिए मुझे छोड़कर किसी और के साथ लौटा, उसे देखते ही मैं समझ गया की वह उसके भाई के  सिवा और कोई नहीं हो सकता। 
 
 माइक्रॉफ्ट  होम्स शरलॉक से ज्यादा लम्बा-चौड़ा था। उसका शरीर थुल-थुला था, पर उसका चेहरा भारी होने पर भी उसमें वही पैनापन था जो उसके भाई की खासियत है, उसकी हल्की पैनी ऑंखें, वही खोया-खोया भाव लिए हुए थी, जो में उस वक्त  शरलॉक  की आँखों में देखता था जब वह अपनी पूरी ताकत से सोच रहा होता था।     
 
“मुझे तुमसे मिलकर ख़ुशी हुई,” अपना भरी-भरकम हाथ आगे बढ़ाते हुए उसने कहा। जब से तुम  शरलॉक  के लिए लिख रहे हो, मैं उसके बारे में हर जगह सुनता हूँ। वैसे ,  शरलॉक  , मुझे उम्मीद थी की मैनर हाउस   के केस के सिलसिले में तुम मुझसे मिलने जरूर आओगे। मैंने सोचा शायद तुम उलझन में होंगे। “
 
“नहीं , मैंने सुलझा लिया है ,” मेरे दोस्त ने मुस्कुराते हुए कहा। 


“ऐडम्स था ना “
 
“हाँ ,  ऐडम्स  ही था “
“मुझे शुरू से ही यह यकीन था “ वे दोनों क्लब की खिड़की के पास बैठ गए। “ कोई भी जो मानव जाती के बारे में जानना चाहता है, उसके लिए यही सबसे सही जगह है,”  माइक्रॉफ्ट  ने कहा। “इन महान हस्तियों को देखो ! जैसे की वे दो आदमी जो हमारी ओर आ रहे है। “
 
“एक बिलियर्ड -मार्कर है और दूसरा ?”


“बिल्कुल। दूसरे के बारे में तुम क्या बता सकते हो ?”
 
वे दोनों आदमी खिड़की के उस पार रुक गए थे। उनमें से एक के वेस्टकोट की जेब पर चाक के कुछ निशान थे जो बिलियर्ड की तरफ इशारा रहे थे। दूसरा बहुत छोटा सा काले रंग का आदमी था जिसका हैट पीछे की ओर था और उसके हाथ में कुछ पैकेट्स थे। 
 
“मुझे लगता है कि ये एक पुराना फौजी है। “  शरलॉक   ने कहा। 


“और अभी हाल में फ़ौज छोड़ी है ,“ उसके भाई ने कहा। 
 
“इंडिया में तैनात था “
 
“और non-commissioned ऑफिसर है। “
 
“शायद रॉयल आर्टिलरी (तोपखाना) का है ,”  शरलॉक  के कहा। 
 
“और  विधुर भी। “
 
“पर उसका एक बच्चा है। “
 
“बच्चे “ मेरे भाई “बच्चे ,”
 
“रहने भी दो ,” हँसते हुए मैंने कहा। “ ये कुछ ज्यादा ही हो गया। “


“अरे ,” होम्स ने जवाब दिया , यह बताना कोई मुश्किल काम नहीं है कि इस तरह की चाल ढाल वाला आदमी जिसके चेहरे पर रॉब है  और  धूप से जला चेहरा, फौजी ही हो सकता है, वह भी प्राइवेट नहीं इसे इंडिया से आए हुए ज्यादा वक्त नहीं हुआ है। ”
 
“उसे  फौज छोड़े ज्यादा समय नहीं बीता है,  इसका पता इस बात से चलता है क्योंकि वह अभी भी अपने फौजी बूट पहने हुए हैं,  माइक्रॉफ्ट  ने कहा। 


“उसकी चाल पैदल सिपाही जैसी नहीं है,  पर वह अपना हैट तिरछा करके पहनता हैं, जैसा कि उसकी एक तरफ के चेहरे के रंग के हल्का होने से पता चलता है। एक सैपर (एक तरह का सिपाही) होने के लिए उसका वज़न बहुत ज्यादा है।  वह तोपखाने में है। “ 
 
“और फिर , उसका पूरी तरह शोक में होना जाहिर करता है की उसने अपने किसी नजदीकी को खोया है। क्योंकि वह अपनी शॉपिंग खुद कर रहा है, इसलिए लगता है उसकी पत्नी नहीं है। तुमने देखा ही होगा कि वह बच्चों के लिए चीज़ें खरीद रहा है। एक झुनझुना है जिससे पता चल रहा है कि उनमें से एक बच्चा काफी छोटा है। पत्नी शायद उसके जन्म के समय ही चल बसी होगी। उसने बगल में एक पिक्चर- बुक  दबा रखी है ,इससे समझा जा सकता है कि एक दूसरा बच्चा भी है।” 

पूरी सुनें......................................

Chapters

Add a Public Reply