INTO THIN AIR: A PERSONAL ACCOUNT OF THE EVEREST DISASTER

About Book

इस बुक से आप क्या सीखेंगे?

1996 का माउंट एवरेस्ट की बर्फ़बारी की दुर्घटनाहमेशा एक रहस्य  बना रहा है क्योंकि आज तक कोई नहीं जानता था कि उस समिट के दौरान कितने  लोगों  ने चढ़ाई की, कितने लोग उस हादसे से शिकार हुए और कितनों ने अपनी जान गंवाई. जॉन  क्रैकावर   जो पेशे से एक जर्नलिस्ट हैं, उन climbers  में से ही एक हैं  जो इस हादसे के शिकार हुए थे और किस्मत से उस दिन बाल-बाल बच गये थे. जॉन की ये बुक उनके पर्सनल एक्सपीरिएंस पर बेस्ड एक सर्वाइवर की कहानी बताती  है जिसमें  climbers  के बारे में डिटेल से बताया गया है और ये भी कि उनकी मौत कैसे हुई थी. 

ये बुक किस-किसको पढ़नी चाहिए ?

•    माउंटेनियर
•    हर वो इन्सान जिसे सच्ची घटनाओं पर लिखी किताबें  पढ़ना पसंद हो 
•    नॉन फिक्शन किताबें पसंद करने वालों को  


ऑथर के बारे में
जॉन क्रैकावर एक अमेरिकन राइटर और mountaineer हैं।वह कई बेस्ट सेलिंग नॉन-फिक्शन किताबों के ऑथर हैं जैसे —Into the Wild; Into Thin Air; Under the Banner of Heaven; Where Men Win Glory: The Odyssey of Pat Tillman।वह 1996 में माउंटएवरेस्ट को फतह करने के लिए  गएटीम के मेंबर थे, जो एवरेस्ट पर चढ़ने के इतिहास में सबसे ख़तरनाक दुर्घटनाओं में से एक था।


 


 

Chapters

Add a Public Reply