Frames of Mind

About Book

क्या स्कूल में आपके मार्क्स कम आते थे? क्या किसी ने आप से कभी कहा है कि आप बेवकूफ हैं  या आप सक्सेसफुल नहीं बन सकते? अगर हाँ  तो वो सभी बिल्कुल गलत हैं। कुछ स्टैंडर्ड  टेस्ट जैसे exam या IQ टेस्ट से इंटेलिजेंस को नापा नहीं जा सकता। ऑथर कहते हैं कि  इंटेलिजेंस भी कई तरह के  होते हैं जैसे - लिंग्विस्टिक, म्यूजिकल, मैथमेटिकल, spatial, bodily और पर्सनल इंटेलिजेंस। आपके पास शायद इनमें से एक या एक से ज्यादा हो सकते हैं। आप बेवकूफ नहीं हैं, इंटेलिजेंट है और आप अपने तरीके से सक्सेसफुल बन सकते हैं। ये समरी इस बात को साबित करती है।


ये समरी किसे पढ़नी चाहिए?

* स्टूडेंट्स
* पैरेंट्स
* टीचर

 

ऑथर के बारे में
हॉवर्ड गार्डनर हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में डेवलपमेंटल साइकोलॉजिस्ट और रिसर्च प्रोफेसर हैं। अब तक वो 30 किताबें लिख चुके हैं। गार्डनर ने अपने काम के लिए बहुत से अवॉर्ड जीते हैं। वे ‘द थ्योरी ऑफ़  मल्टीपल इंटेलिजेंस’ के लिए जाने जाते हैं, जिसे उन्होंने अपनी बुक ‘फ्रेम्ज़ ऑफ़ माइंड’ में बताया था, जो 1983 में पब्लिश हुई थी।


 

Chapters

Add a Public Reply